पाकिस्तान के सिंध प्रांत में सोमवार को मेडिकल कॉलेज की छात्रा नम्रता चंदानी का शव हॉस्टल से मिला। नम्रता चंदानी लरकाना स्थित बीबी आसिफा डेंटल कॉलेज में बीडीएस आखिरी सेमेस्टर की छात्रा थी नम्रता की मौत के बाद कुछ लोगों ने उसे मुस्लिम बताने की कोशिश की

नम्रता का शव हॉस्टल के कमरे में पलंग पर मिला.  गले में रस्सी बंधी हुई थी  मृतका के भाई डॉक्टर विशाल ने कहा कि यह खुदकुशी नहीं, कत्ल है

हत्या का शक इसलिए

 नम्रता के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था, लेकिन खिड़की खुली हुई थी।  क्योंकि पंखे या किसी और चीज से रस्सी बांधने का कोई सबूत नहीं मिला।

मामले को  धर्म परिवर्तन बताने की कोशिश की।

परिजन का दावा- नम्रता की मौत के बाद कुछ लोगों ने उसे मुस्लिम बताने की कोशिश की इमरान सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों ने ‘गुंडागर्दी सहन नहीं करेंगे’ जैसे नारे लगाए नम्रता का भाई विशाल, जो खुद एक मेडिकल कंसलटेंट है. उसका कहना है  कि ये सुसाइड नहीं, बल्कि मर्डर है.   हॉस्टल के प्रशासन और पुलिस पर आरोप लगाया कि हत्या को आत्महत्या बताकर इस मामले को दबाने की कोशिश हो रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here